Dalip Shree Shyam Comp Tech. 9811480287
 
top
Facebook Twitter google+ Whatsapp

खाटू श्याम भजन लिरिक्स | श्याम बाबा भजन | खाटू श्याम लिरिक्स हिंदी


तर्ज : ओढ़े लाल चुनरिया.............दिया और तूफान

अपने श्याम कन्हैया से, कर ले थोड़ा सा व्यापार

गर तेरे पास में दौलत नहीं


मोहना ये प्रेम निभाना है, तेरा मेरा रिश्ता पुराना है, भेद कोई दिल में कर ना दे, बड़ा बेदर्द जमाना है।

।। अन्तरा।।

जान पहचान जो हमारी, श्याम ये है मर्जी तुम्हारी

आपकी बराबरी नहीं है, मैं हूँ कहीं तू कहीं है

फिर भी ये प्रेम बढ़ाना


तर्ज : तेरा जाना बनके तकदीरों

मेरा कान्हा, भोले भक्तों का है दीवाना

कोई देखे, सांवरिये का बनके दीवाना।।


तर्ज : रूप सुहाना लगता है.................

श्याम दिवाना हो जा तू, इसकी धुन में खो जा तू

दुनिया तुझे क्या देगी

जो भी दिवाना है, उसने ये माना है

दुनिया है मतलब की।

।। अन्तरा।।


तर्ज : दिल तेरा दिवाना...............रघुवीर

जो इसका दिवाना, ये उसका दिवाना

कान्हा देखो ढूंढ रहा है, भक्तों का ठिकाना

कन्हैया हो गया परेशान, ढूंढे भक्तों का मकान

 


तर्ज - मुझे अपनी शरण में ले ले

मुझे अपनी शरण में ले ले

हारे के साथी मैं हारा-2, अब तो बाँह पकड़ ले


तर्ज - मेरा दिल ये पुकारे आजा....................

हारे के सहारे आजा, तेरा दास पुकारे आजा I
हम तो खड़े तेरे द्वार, सुनले करूण पुकार II
।। अन्तरा ।।
लाख चाहूँ मगर, बात बनती नहीं ‘क्या करूं’-2
नाव भटके मेरी, पार लगती नहीं ‘क्या


तर्ज - सूरज कब दूर...............

कण कण में वास है जिसका,

तिहूँ लोक में राज है जिसका,

हारे का


बड़ी आश लिए विश्वास लिए

मैं आया तेरे द्वारा, कन्हैया मेरी सुन ले पुकार

।। अन्तरा ।।

आश का दामन छू


हारे का तू है सहारा साँवरे

हारे का तू है सहारा साँवरे

हमने भी तुम को पुकारा साँवरे

नहीं


bottom