Dalip Shree Shyam Comp Tech. 9811480287
 
top

Baba Khatu Shyam Ji Shayari Shyam Baba Shayari in Hindi


Facebook Twitter google+ Whatsapp

मेरी तकदीर के मालिक, मेरी तकदीर तो तुम हो।
जो उभरी है सितारो पे, मेरी तस्वीर तुम हो।
यह दौलत, यह शोहरत, सफर श्मशान तक का है।
जो आखिर साथ जाना है, असल जागीर तो तुम हो। 
।। जय श्री श्याम।।


तेरी निराली नजर मैंने रहमत भरी देखी
तेरी कृपा से सूखे पेड़ की टहनी हरी देखी
सकलाई मैंने बाबा तेरी खरी देखी
की देते नहीं देखा मगर, झोली भरी देखी।
।। जय श्री श्याम।।
 


इतनी मेहरबानी मेरे श्याम बनाये रखना,
जो रास्ता सही हो उसी पर चलाये रखना।
ना दुखे दिल किसी का मेरे शब्दों से, 
इतना रहम तू मेरे श्याम मुझपे बनाये रखना।।
।। जय श्री श्याम।।


लिखी है ये गजल सिर्फ तेरे लिये
दीवाने बने भी तो सिर्फ तेरे लिये।
किसी को नहीं देखेंगी अब ये आंखे
नजरे तरसेंगी भी तो सिर्फ तेरे लिये।।
।। जय श्री श्याम।।
 


बिन बोले जब मिलते है श्याम हम बोल के क्यों मांगे।
मेरी दुनियां जब है ही श्याम, फिर इस दुनियां से क्यों हम मांगे।।
।। जय श्री श्याम।।


मेरी दिल की तसल्ली के लिये बस इतना काफी है मेरे श्याम
हवा जो तुम्हें छूकर गुजरती है मैं उसमें सांस लेता हूँ।
।। जय श्री श्याम।।


मेरे श्याम... तेरी मोहब्बत से भर रखी है,
हमने अपने दिल की तिजोरी
कोई कोहिनूर भी ला के दे
तो भी मैं सौदा ना करूँ।
।। जय श्री श्याम।।


हे सांवरिया.... हम तो समझे थे तेरे दीदार से 
दिल को सुकून आ जायेगा।
पर ये नही जाना था कि
यह दिल और भी बेकरार हो जायेगा।।
।। जय श्री श्याम।।


हे सांवरियां...लिखी है ये गजल सिर्फ तेरे लिये
दीवाने बने भी तो सिर्फ तेरे लिये।
किसी को नहीं देखेंगी अब ये आंखे
किसी को नहीं देखेंगी अब ये आंखे।।
।। जय श्री श्याम।।


हर मंजर में मैं पाऊं तुम्हें कैसे 
कहूँ श्याम कितना चाहूँ तुम्हें।
बस तुमसे ही है ये जिन्दगी मेरी
यूँ ही कैसे भूल जाऊँ तुम्हें।।
।। जय श्री श्याम।।    


bottom